Is Raat Ke Baad…

इस रात के बाद जो सुबह होगी,
वो कल जैसी नहीं होगी ,
इस रात में कुछ खास बात होगी,
जो रोज नहीं होती,
इस रात में वो सारी  बेड़िया टूटेगी ,
जो अब तक नहीं टूटी है,
इस रात में वो सब मिट जायेगा,
जो आज तक नहीं मिटा है,
इस रात में ऐसी शहनाई बजेगी ,
जो आज तक नहीं बजी है,
इस रात में कुछ ऐसे तराने सजेंगे ,
जो आज तक नहीं सजे है,
इस रात का सन्नाटा ऐसे टूटेगा,
जो आज तक नहीं टुटा है,
इस रात में वो सब प्रकाशित होगा ,
जो आज तक नहीं हुआ है,
इस रात के बाद जो सुबह होगी,]
वो कल जैसी नहीं होगी,
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: